Loading...

Parag’s Top 9 Picks for Women’s Day

This Women’s Day encourage children to read books with strong women protagonists written by stronger women authors…

Parag Reads 8th March 2022

नारी दिवस के लिए पराग की शीर्ष 9 चयन

इस, महिला दिवस बच्चों को सशक्त महिला लेखकों द्वारा लिखित सशक्त महिला नायक वाली पुस्तकें पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें |…

Parag Reads 9th March 2022

सफ़रनामा : दौर-ए-कोरोना में ‘हवामहल’

महामारी के दौर में लोग घरों में बंद किए जा सकते हैं, लेकिन कहानियों को कभी कैद नहीं किया जा सकता। – प्रभात कुमार झा, बालबीती …

Navnit Nirav Parag Reads 8th April 2022

सो जा उल्लू

2021 में जब भीली लोक शैली की चित्रकार,भूरी बाई जी को पद्मश्री पुरस्कार दिया गया था तब से ही मेरे मन में यह इच्छा थी कि उनके किए कार्यों को…

Parag Reads 13th April 2022

Library: A place to begin and a place to be

Libraries have always been a comforting place for me. When I think deeper about what made them comfortable, it is …

Parag Reads 13th May 2022

Kitabon ka Chaska

मेरी नजर में विद्यालय के भीतर एक खूबसूरत गार्डन और एक जीवंत पुस्तकालय होना निहायत जरूरी है। देश के सरकारी स्कूलों में अक्सर इन दोनों बातों…

Parag Reads 20th May 2022

पुस्तकों से बच्चों की दोस्ती

मैं योग्यता इसरानी राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय अलियाबाद, निवाई (टोंक) में कार्यरत हूँ। पुस्तकालय से जुड़ा अपना एक अनुभव मैं साझा करना चाहूंगी। यह उन…

Parag Reads 27th May 2022

बाल साहित्य में ‘रंग और चौखटे व रेखाओं’ का चितेरा

मैं खुद को बालहंस की पीढ़ी का पाठक मानता हूँ। उससे पहले पराग पत्रिका की चर्चा थी। कुछेक अंक देखने का मौक़ा मिला था। बाल एवं किशोर पाठकों को विभिन्न…

नवनीत नीरव Parag Reads 31st May 2022

Language of love: A library educator’s experiences with Rainbow Girls and Rainbow Boys

Rituparna is a professional social worker and a library educator with an experience of working with children,…

Tuhina Sharma Parag Reads 22th June 2022