Loading...

udte pankh

उड़ते पंख

“अगर मैं पंछी होती-
तो उड़ जाती l
गाँव से दूर।…

Priyanka Singh Parag Reads 11 September 2020

चश्मा नया है

बच्चों के भीतर झाँकने की एक खिड़की हैं ये किस्से। और नए चश्मे से देखेंगे तो और भी बहुत कुछ नज़र आएगा। बच्चों के लिए बहुत सारी कहानियाँ बनती हैं, लिखी जाती हैं और कई उन्हें सुनाई भी जाती हैं।

Priyanka Singh Parag Reads 26 July 2019

मैं तो बिल्ली हूँ

टिंटी कहती है कि वह एक बिल्ली है l पर उसकी माँ कहती है कि वह उसकी नन्ही सी बेटी है l टिंटी है कौन? यह कहानी इसी प्रश्न का जवाब ढूंढते हुए बचपन की मज़ेदार सोच और मासूम ख्यालों को दर्शाती है l

Priyanka Singh Parag Reads 10 May 2019